सऊदी में महिला ड्राइविंग लाइसेंस के लिए लाखों आवेदन

रियाद: सऊदी अरब में महिलाओं के ड्राइविंग करने से प्रतिबंध हटने के साथ ही इसके लिए लाइसेंस मांगने वालों की तादाद तेजी से बढ़ रही है. हाल फ़िलहाल ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अबतक 1 लाख 20 हजार आवेदन आ चुके हैं. सऊदी अरब गृह मंत्रालय और ट्रैफिक डिपार्टमेंट की ओर से रविवार को यह जानकारी दी गई. अरसे बाद रविवार को यहां महिलाओं को ड्राइविंग का हक मिला. इस ऐतिहासिक मौके पर सऊदी अरब में महिला अधिकारों के लिए काम करने वाली असील अल हमद ने फ्रेंच ग्रां प्री से पहले ले कास्टेलेट सर्किट पर फॉर्मूला वन कार चलाई.

सऊदी अरब गृह मंत्रालय के प्रवक्ता मेजर जनरल मंसूर अल-तुर्की ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि आने वाले हफ्तों में 40 महिला रोड इंस्पेक्टर की तैनाती की जाएगी. उन्होंने बताया कि पांच शहरों में महिलाओं के लिए ड्राइविंग स्कूल बनाए गए हैं. वहीं, ट्रैफिक डिपार्टेमेंट के महानिदेशक मेजर जनरल मोहम्मद अल-बसामी ने कहा कि महिलाओं की ओर से ट्रैफिक नियमों को तोड़ने का अभी एक भी मामला सामने नहीं आया है. उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा महिलाओं के लिए वाहनों की अलग से पार्किंग तय नहीं की गई है.

असील अल हमद एफ-1 चलाने वाली देश की पहली महिला: सऊदी अरब में महिलाओं को सड़कों पर वाहन चलाने की इजाजत मिलने को यादगार बनाने के लिए एफ वन टीम रैनो ने असील को फॉर्मूला वन कार चलाने का मौका दिया. असील रैनो टीम की ‘पैशन परेड’ का हिस्सा हैं. सऊदी अरब की मोटर स्पोर्ट्स की पहली महिला सदस्य असील यहां वही कार चलाती दिखीं जिससे 2012 में अबू धाबी में किमी राइकोनेन ने जीत दर्ज की थी.

Related posts

Leave a Comment