फखर ज़मां ने तोड़ा 38 साल पुराना रिकॉर्ड , पाक ने किया जिम्बाब्वे का सूपड़ा साफ

पांच एक दिवसीय मैचों की श्रंखला के आखिरी मैच में पाकिस्तान ने जिम्बाब्वे को 131 रन से शिकस्त देकर श्रृंखला 5-0 से अपने नाम कर। इसके साथ ही पाकिस्तान के लिए एक दिवसीय मैच में पहला दोहरा शतक लगाने वाले फखर ज़मां ने आज सबसे कम 18 पारियों में 1000 रन बनाने बनाने का एक और रिकार्ड अपने नाम कर लिया। ज़मां ने वेस्टइंडीज के महान खिलाड़ी सर विव रिचर्ड्स के 38 साल पुराने रिकॉर्ड को तोड़ा, जिन्होंने 21 पारियों (22 मैच) में यह कीर्तिमान बनाया था।

पाकिस्तान ने फखर ज़मां के 85 रन की पारी के बूते जिम्बाब्वे के खिलाफ श्रृंखला के पांचवें और अंतिम मैच में चार विकेट पर 364 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। सलामी बल्लेबाज इमाम उल हक (110) और बाबर आजम (नाबाद 106) ने शतकीय पारी खेली। ज़मां और इमाम उल हक ने 25 ओवर में पाकिस्तान के स्कोर को 168 रन तक पहुंचा दिया। शतक से चूकने के बावजूद भी ज़मां ने पांच मैचों की श्रृंखला में सबसे ज्यादा 515 रन बनाने का रिकॉर्ड बनाया। बाबर आजम ने 72 गेंद में शतक पूरा करके टीम के स्कोर को 350 के पार पहुंचाया। उन्होंने आखिरी पचासा महज 17 गेंद में पूरा किया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी जिम्बाब्वे की टीम जवाब में जिम्बाब्वे की टीम 50 ओवर में चार विकेट पर 233 रन ही बना सकी। अपनी के लिए कप्तान हैमिल्टन मासकाद्जा (34) और तिनाशे कामुनहुकामवे (34) ने पहले विकेट के लिए 66 रन जोड़े। प्रिंस मासवारूवे ने 39 और रेयान मुर्रे ने 47 रन बनाये। दोनों खिलाड़ियों का यह सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। पीटर मूर ने नाबाद 44 रन जोड़े।

इमाम उल हक

Related posts