शहर भर की मस्जिदों में अक़ीदत के साथ हुई अज़हरी मियां के सोयम की फातिहा

बरेली। शहर भर की मस्जिदों में ताजुशरिया मुफ़्ती अख्तर रज़ा खान ‘अज़हरी मियां’ का सोयम की फातिहा हुई। सुबह फज्र की नमाज़ में लोग अपने पीरो मुर्शिद के सोयम लिये घर से निकलकर मस्जिदो मे जमा होने लगे। मोहल्ला सौदागरान में रज़ा मस्जिद में ताजुशरिया के सोयम की रस्म अदा की। रात से ही रज़ा मस्जिद में लोग जुटना शुरु हो गये थे। फज्र की नमाज़ के बाद लोगो ने अपने पीर मुर्शिद के लिये चनों पर क़लमा पढ़ा और कुरान की तिलावत की।

जमात ए रज़ा मुस्तफा के उपाध्यक्ष सलमान ने बताया कि ज़ोहर की नमाज़ के बाद महफिल मिलाद का आगाज़ किया गया जो अस्रर की नमाज़ तक जारी रहा। इसके बाद असद रज़ा खां की सरपस्ती में सोयम की फ़ातिहा की रस्म अदा की गयी। इसके अलावा मदरसा मंज़र ए इस्लाम(सौदागारान), इस्लामिक इस्टडी सेंटर(मथुरापुर), मदरसा मज़हर ए इस्लाम(बिहारीपुर), मदरसा जामिया नूरिया(बाक़र गंज), मदरसा रहमानिया नूरिया(जसोली), मस्जिद मुफ़्ती ए आज़म (मलूकपुर), मीत वाली मस्जिद(छीपी टोला), 6 मीनारा मस्जिद(काकर टोला), हबीबिया मस्जिद(सैलानी), नूरी रज़ा मस्जिद, सकलैनी मस्जिद किला कटघर, ताजुशशरिया मस्जिद इनायतें रसूल (परतापुर इज़्ज़त नगर) नूरी मस्जिद ठिरिया निज़ावत खान) समेत शहर की अनेक मस्जिदों में ताज़ियाती जलसा हुआ।

सोयम में अज़हरी मियां के साहिबज़ादे मौलाना असद रज़ा खां के साथ दरगाह प्रमुख हज़रत सुब्हानी मियां, सज्जादानाशीन हज़रत अहसन मियां, हज़रत मन्नानी मियां, सलमान हसन क़ादरी, हज़रत तौसीफ मियां, हज़रत अंजुम मियां, हज़रत तस्लीम मियां, दामाद ताजुशशरिया, हज़रत फरहान मियां(सऊदी अरब), हाजी मंसूब अली साहब, हाजी बुरहान अली साहब, मुफ़्ती आशिक़ हुसैन, हज़रत सिराज़ मियां, हज़रत हस्सान मियां, हज़रत उमर मिया, मौलाना अदनान मियां, जनाब मौज़ज़्म रज़ा, हज़रत अनस मियां, हुस्साम मियां, हम्माम मियां, सय्यद आसिफ मियां मोहतिशिम रज़ा, अल्लामा ज़िया उल मुस्तफ़ा, बगदाद शरीफ से मुफ़्ती गुलाम मुस्तफ़ा, साउथ अफ्रीका के मुफ़्ती आफताब क़ासिम, नासिर कुरैशी आदि लोग मौजूद रहे।

Related posts