स्तनपान शिशु का अमृत, स्तनपान से शिशु होगा बाहुबली

बरेली। विश्व स्तनपान सप्ताह 01 अगस्त से 07 अगस्त तक आयोजित किया जा रहा है इस दौरान नवजात को स्तनपान को व्यापक रुप से प्रभावी व जागरुकता के लिये कमिश्नर बरेली डा0 पी0वी0 जगनमोहन ने अभिनव प्रयास एवं कार्य योजना लागू की है।

 1- प्रसूतिगृहों में पहुॅच कर ए0एन0एम0,
आशा, स्कूली शिक्षिकायें, छात्रायें
गर्भवती  महिलाओं को डाक्टर के
अंदाज में समझा रही स्तनपान का
महत्व
2- स्तनपान अभियान प्रभावी बनाने हेतु
कमिश्नर बरेली का अभिनव प्रयास
3- स्तनपान शिशु का अमृत, स्तनपान से
शिशु होगा बाहुबली, बीरांगना
4- विश्व स्तनपान सप्ताह 01 अगस्त से
07 अगस्त तक-
5- बरेली मण्डल में 444 प्रसूतिगृह
संस्थान सूचीवृद्ध किये जा चुके

मण्डल के समस्त जिलों में प्रसूतिगृहों (सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों) को सूचीवद्ध किया गया है अब तक 444 प्रसूतिगृह सूचीवृद्ध किये जा चुके है। इन प्रसूतिगृहों में ए0एन0एम0, आशायें, स्कूल की शिक्षिकाओं एवं छात्रायें वहां जाकर ‘‘डाक्टर के अंदाज‘‘ में गर्भवती महिलाओं को नवजात शिशु को स्तनपान कराने के फायदे बताती है। जहां डिलीवरी हुई है वहां शिशु को अपने सामने मॉ का स्तनपान भी करवाती है। गर्भवती महिलाओं को बताया जा रहा है कि स्तनपान शिशु का अमृत, स्तनपान से शिशु होगा बाहुबली, वीरांगना, बच्चों की रक्षा एवं सुरक्षा जन्म के पहले घंटे में ही स्तनपान से हो जाती है। जन्म के एक घंटे के अन्दर स्तनपान करने वाले बच्चों की उम्र बढ़ जाती है। 6 माह तक बच्चें को स्तनपान कराये। कमिश्नर के इस अभिनव प्रयास से सभी सी0एम0ओ0 ने ए0एन0एम0 व आशा की ड्यिटी प्रसूतिगृहों पर लगायी है। संयुक्त निदेशक शिक्षा के माध्यम से डी0आई0ओ0एस0 द्वारा इण्टर स्कूल की शिक्षिकाओं, छात्राओं को प्रसूतिगृहों पर भ्रमण कर गर्भवती महिलाओं को स्तनपान के लिये जागरुक करने हेतु लगाया गया है। कमिश्नर के निर्देशानुसार समस्त सरकारी व प्राइवेट प्रसूतिगृहों पर स्तनपान शिशु का अमृत तथा स्तनपान से शिशु होगा बाहुबली, वीरागंना के श्लोगन लिखवाये गये है तथा स्तनपान के अन्य फायदो व स्तनपान के तरीको को प्रदर्शित किया गया है।

————-

Related posts