बरेली में बाढ़ : मुश्किल में बाकरगंज के बाशिंदे

बरेली। बाकरगंज किला नदी का पुल पर हादसों को रोकने के लिये कोई उपाय नहीं हैं, अव्यवस्थाए हादसों को न्यौता देती हैं जिसके चलते यहां कई हादसे हो चुके हैं लेकिन प्रशासन को इसकी कोई सुध नहीं है।

बाकरगंज नदी के पल पर बरसात के मौसम मेंऔर रात के अंधेरे में लोग नदी में गिर जाते हैं, यहां की सड़क और गाँव के रास्ते से पुल काफ़ी नीचे है जिसकी वजह से नदी का पानी पुल को डूबा देता है और जलभराव की वजह से आवाजाही बन्द हो जाती हैं, स्कूली बच्चे बुज़ुर्ग, महिलाओं सहित सभी लोगों को अधिक परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं। बाकरगंज नदी के पुल पर कई बार दुर्घटनाएं हो चुकी हैं और मौते हो चुकी हैं, ये रास्ता हुसैनपुर, मुरपूरा, घूराराघवपुर, आज़मपुर, तिलपुर, सैसिया आदि गांवों में जाता हैं जो शहर से जुड़े बड़ी आबादी वाले गांव हैं। इन गांवों को जाने वाली सड़क जर्जर हैं जगह जगह गड्ढे हैं।

जनसेवा टीम के अध्यक्ष पम्मी वारसी ने इलाके का भ्रमण किया और लोगों की दिक्कतों को जाना। उन्होंने शासन और प्रशासन से मांग की कि यहां सड़क बने और बाकरगंज नदी के पुल को मुख्य सड़क के लेबिल से बनाया जाय तभी आधा दर्जन गांवों के बाशिंदों को इस जटिल समस्या से राहत मिल सकती हैं।

Related posts