18 अगस्त से मॉरिशस में शुरू होगा ‘विश्व हिन्दी सम्मलेन’

नई दिल्ली। इसी महीने मारीशस में होने जा रहे विश्व हिन्दी सम्मेलन के लिए दूसरे देशों में रह रहे हिन्दी प्रेमियों ने जबर्दस्त उत्साह दिखाया है। विदेश मंत्रालय के मुताबिक 18 से 20 अगस्त तक होने वाले ग्यारहवें विश्व हिन्दी सम्मेलन के लिए अब तक कुल 1422 लोगों ने पंजीकरण कराया है जिनमें से 560 विदेशी हैं। सम्मेलन के लिए भारत के राष्ट्रीय पक्षी मोर तथा मारीशस के राष्ट्रीय पक्षी डोडो को मिलाकर बनाया गया शुभंकर हिन्दी के अंक ग्यारह जैसा दिखता है।

मंत्रालय के अनुसार विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की पूरी कोशिश है कि यह सम्मेलन पुराने सम्मेलनों से हटकर कुछ अलग हो। इस संबंध में मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि सम्मेलन में पहली बार पिछले सम्मेलन में हुए अलग-अलग सत्र की अनुशंसाओं पर पिछले तीन वर्ष में की गई कार्रवाई की रिपोर्ट भी पेश की जाएगी। पिछला सम्मेलन 2015 में भोपाल में हुआ था और उसमें कुल 12 सत्र हुए थे।  (एजेंसी)

Related posts