शाहिदा अंजुम फ़ख़्र ए अन्सार अवॉर्ड से सम्मानित

बरेली । विमान बनाने वाली दुनिया की सबसे बड़ी अमेरिकी कंपनी बोइंग में वैज्ञानिक के पद पर चयन होने पर शाहिदा अंजुम अंसारी और 56 साल से एक ही मस्जिद में क़ुरान शरीफ़ की तिलावत का शर्फ़ हासिल पर हाफ़िज़ मो0 हनीफ़ अंसारी को फ़ख़्र ए अन्सार अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।
बरेली के गुल पैलेस में अल अन्सार सोशल मूवमेंट ऑफ इंडिया (आसमी) की जानिब से फ़ख़्र ए अन्सार अवॉर्ड कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया। इसमें अंसारी समाज के नवाबगंज निवासी नफ़ीस अहमद अंसारी की बेटी शाहिदा अंजुम अंसारी का अमेरिका की विमान बनाने वाली बोइंग कंपनी में वैज्ञानिक के पद पर चयन होने पर पीलीभीत के हाफिज मो. हनीफ़ अंसारी को लगातार एक ही मस्जिद में 56 साल तक क़ुरान शरीफ की तिलावत करने का शर्फ़ हासिल करने पर फ़ख़्र ए अंसार अवॉर्ड से नवाजा गया। दोनो को फख्र ए अंसार अवार्ड अल अंसार के सदर ताजुद्दीन अंसारी और पूर्व विधायक इस्लाम साबिर अंसारी के द्वारा प्रदान किया गया। इस मौके पर अंसारी समाज के उत्थान के उल्लेखनीय कार्य करने के लिए खुर्शीद अंसारी, रिफ़ाक़त अली अंसारी, हाज़ी रईस अहमद अंसारी, हाज़ी कुतुबुद्दीन अंसारी, हाज़ी ख़ालिद अंसारी, एम.ए. अंसारी, मुफ़्ती इरशाद अहमद अंसारी क़दीरी, मुफ़्ती जाबिर अंसारी सहित दर्जनों लोगों को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया।
कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए अल अंसार के सदर ताजुद्दीन अंसारी ने कहा कि अल अंसार सोशल मूवमेंट ऑफ इंडिया लगातार प्रतिभाओं को सम्मानित करके उनकी हौसला अफ़जाई करती आयी है। उन्होंने कहा कि समाज के लोग अपने बच्चों को आला तालीम दिलाएं ताकि यह बच्चे आगे चलकर उनका और समाज का नाम रोशन करें। उन्होंने बताया कि अल अंसार सोशल मूवमेंट ऑफ इंडिया का उद्देश्य गरीब बच्चियों की शादी में मदद करना , समाज मे फैली कुरीतियों के खिलाफ मुहिम चलाना आदि है। डॉ वहीद अंसारी ने कहा कि समाज की तरक्की सिर्फ इल्म से ही सम्भव है इसलिये हमें चाहिये कि अपने बच्चों को ज्यादा से ज्यादा तालीम दिलाएं।
कार्यक्रम की सदारत मक़बूल अहमद अंसारी ने और कार्यक्रम की निज़ामत सिद्दीक़ अहमद अंसारी ने की। कॉन्फेंस में मुस्तफा अली अंसारी, मोहम्मद फईम अंसारी, रिज़वान अंसारी, रियाजुद्दीन अंसारी, सिद्दीक़ अहमद अंसारी, मो ज़ाहिद , डॉ नायाब अंसारी, शहीद अहमद अंसारी सहित बड़ी तादाद में लोग मौजूद रहे ।

Related posts