मेनका गांधी के खिलाफ पीलीभीत भाजपा में बगावत, देखें वीडियो

  • विनय सक्सेना

पीलीभीत। लोक सभा चुनाव से ठीक पहले पीलीभीत भारतीय जनता पार्टी में मेनका गांधी के खिलाफ बगावत हो गयी। ज़िले के चारों विधायक और पार्टी के उच्च पदस्थ पदाधिकारियों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बगावत का एलान करते हुए मेनका गांधी पर आरोपों की बौछार कर दी।

प्रेस कॉन्फ्रेंस करते भाजपा के विधायक और पदाधिकारी

रविवार को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में फैसला किया गया है कि मेनका गांधी या वरुण गांधी को टिकट दिया जाएगा तो इसका पुरजोर विरोध किया जाएगा। अगर पार्टी ने उन्हें उम्मीदवार बनाया तो उनका बहिष्कार होगा। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष सुरेश गंगवार ने कहा कि जब से देश आजाद हुआ है तब से कांग्रेस से मोहन स्वरूप संसद हुए उसके बाद हरीश गंगवार, भानु प्रताप सिंह, जनता पार्टी सरकार में शमशुल हसन खां और 1991 में भाजपा के परशुराम गंगवार सांसद रहे। उसके बाद लगातार मेनका गांधी और उनके बेटे वरुण गांधी सांसद रहे। सुरेश गंगवार सवाल करते हुए कहते हैं कि क्या पीलीभीत में कोई ऐसा व्यक्ति नहीं है जो सांसद का चुनाव लड़ सके? क्या बाहर के लोग ही आकर यहां चुनाव लड़ेंगे? गंगवार आगे कहते हैं कि वो लोग अपनी बात व्यक्तिगत रूप से संगठन तक पहुंचाते रहते थे लेकिन आज हमने सामूहिक रूप से संगठन के सामने हमने मांग रखी है टिकट किसी स्थानीय व्यक्ति को दिया जाए।

मेनका गांधी

भारतीय जनता पार्टी के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष सुरेश गंगवार मेनका गांधी पर निशाना लगाते हुए कहते हैं कि “बाहरी लोग पीलीभीत की उपजाऊ जमीन पर खड़ी फसल काटकर अपना उल्लू सीधा करने में लगे रहे। ऐसे बाहरी लोग अक्सर कहते रहते हैं कि उन्होंने पीलीभीत को स्वर्ग बना दिया है लेकिन पिछले 30 सालों में पीलीभीत को नरक बना दिया है यहां की प्रगति और उन्नति को जकड़कर ताले में बंद कर दिया है।” सूत्रों के मुताबिक हरियाणा अपने लिए नई राजनीतिक ज़मीन तलाश रहीं मेनका गांधी कपनी ही पार्टी में हुई बगावत ने पीलीभीत में उनकी डगर मुश्किल कर दी है।

देखें वीडियो

Related posts