महाराष्ट्र : फ्लोर टेस्ट से पहले ही धाराशायी हुयी भाजपा सरकार, सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी दिया इस्तीफा

0
39

महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट से राकांपा नेता अजित पवार ने मंगलवार को डिप्टी सीएम पद से इस्तीफा दे दिया। अजित के इस्तीफे के बाद देवेंद्र फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सीएम पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कहा कि हमारे पास बहुमत नहीं है। जो सरकार बनाने जा रहे हैं उनको मेरी शुभकामनाएं। फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र में भाजपा को जनादेश मिला था। भाजपा 105 सीटें पाकर बड़ी पार्टी बनी। उन्होंने कहा कि शिवसेना ने पहले सौदेबाजी करनी शुरू की। हमने शिवसेना का इंतजार किया लेकिन वो अड़ी रही। शिवसेना ने राकांपा और कांग्रेस के साथ बातचीत शुरू कर दी। शिवसेना ने इतने दिनों तक अपना ही मजाक बना लिया। उन्होंने कहा कि तीनों दलों ने सरकार बनाने से इंकार किया था। इससे पहले महाराष्ट्र में मचे घमासान पर आज दिल्ली में बैठक हुई। बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद रहे। सूत्रों के मुताबिक बैठक में महाराष्ट्र की राजनीति पर चर्चा हुई।

बता दें कि आज महाराष्ट्र मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए बुधवार को फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया है। साथ ही कोर्ट ने कहा कि फ्लोर टेस्ट का लाइव प्रसारण भी होगा और कोई गुप्ट वोटिंग नहीं होगी। राकांपा-शिवसेना और कांग्रेस कहती आ रही है कि उसके पास बहुमत का आकड़ा मौजूद है और वो ही सरकार बनाएंगे। फडणवीस ने शनिवार सुबह सीएम पद की शपथ ली थी और अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद पर शपथ ग्रहण की थी। फडणवीस ने सोमवार को सीएम पद संभाल लिया था लेकिन अजित पवार ने अभी तक अपना कार्यभार नहीं संभाला था। अजित पवार पर लगातार शरद पवार के खेमे में लौट आने का दवाब बनाया जा रहा है। अनसीपी के कई बड़े नेताओं ने अजित पवार को मनाने की कोशिश की थी लेकिन वे भाजपा के साथ जाने की जिद्द पर अड़े रहे थे।