सैंथल में चौथे इमाम की विलादत पर जश्न

  • मुनीब हुसैन

बरेली। सेथंल में नवासा ए रसूल हजरत इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के बेटे चौथे इमाम हजरत जैनुल आब्दीन की यौमे विलादत का जश्न मोहल्ला हाकिम टोला के छोटे इमामबाड़े में मनाया गया।

शिया प्रतिनिधि हलीम ज़ैदी ने बताया कि अरब के पवित्र शहर मदीना ए मुनव्वरा में उर्दू माह के 15 जमादिउल अव्वल में चौथे इमाम हजरत जैनुल आब्दीन का जन्म हुआ था। इसी दिन शियां समुदाय जश्ने यौमे विलादत हर घरों में मनाया जाता है और साथ ही घरों में नजर दिलाई जाती है। मस्जिदों, इमामबाड़ों और घरों में महफिलें आयोजित की जाती हैं।

वही जश्ने विलादत की पूर्व संध्या पर असद हुसैन की जानिब से मुहल्ला हाकिम टोला के छोटे इमामबाड़ा में एक महफिल आयोजित की गई। महफिल की शुरूआत मौलान शहीर हुसैन ने पवित्र कुराने मजीद की तिलावत से की। तो वही मौलाना नदीभ मुज़फ्फरनगरी ने चौथे इमाम हजरत जैनुल आब्दीन के जीवन पर रोशनी डाली। तकरीर के बाद मुकामी शायरों ने बारगाहे इमामत में अपना कलाम पेश किया और एक दूसरे से गले मिल कर यौमे विलादत की बधाइया दी। इस मुबारक मौके पर हलीम सेथंली, डा अकील हुसैन ज़ैदी, यासीन मेहंदी, जाफर सेथली, अनवर सेथंली, गज़नफर सेथली ने अपने -अपने कलाम से समाईन को नवाज़ा।