एनपीआर और एनआरसी को लेकर एक बार फिर सामने आये मौलाना तौक़ीर

  • मुनीब हुसैन

बरेली। इत्तिहाद ए मिल्ल्त काउंसिल (आईएमसी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना तौक़ीर रज़ा खान ने एनपीआर और एनआरसी को लेकर एक बार फिर सरकार के साथ विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधा। पत्रकारों से वार्ता करते हुये मौलाना तौकीर ने कहा कि सपा-बसपा समेत जितने भी सैक्युलर पार्टी है आरएसएस के एजेंडे पर कार्य कर रहे हैं साथ ही उन्होंने कहा कि एक अप्रैल से शुरू होने जा रहे एनपीआर का आम जनता बहिष्कार करें। वही एनपीआर में मांगी जाने वाली सूचनाएं जैसे माता-पिता की जन्मतिथि और जन्म स्थान जैसे कई मुद्दों को लेकर उनका विरोध जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि पूर्व में जिस तरह जनगणना होती रही है उसी तरह से की जाए, अगर इन मुद्दों को जोड़ा जाएगा तो लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा।

वही राम मंदिर के मलवे पर मौलाना ने जफरयाब जिलानी के बयान पर निशाना साधते हुये कहा कि बाबरी मस्जिद के संपत्ति पर या फिर मलबे पर वक्फ बोर्ड का हक बनता है उस पर मुस्लिम पर्सनल बोर्ड का किसी भी तरह का कोई हक नहीं बनता है साथ ही उन्होंने जफरयाब जिलानी पर मुस्लिमों से जुड़े मुद्दे पर राजनीति करने का भी आरोप लगाया।