ब्लाउज और सूट पहनने पर मोटे दिखते हैं हाथ, योग गुरु ने बताया कैसे कम करें बाजुओं की चर्बी

ब्लाउज और सूट पहनने पर मोटे दिखते हैं हाथ, योग गुरु ने बताया कैसे कम करें बाजुओं की चर्बी

क्या आप मोटी बाजुओं के कारण शर्मिंदा महसूस करती हैं? क्या इसके कारण आप फिटिंग के या फिर स्लीवलेस कपड़े नहीं पहन पातीं? अगर हां, तो आप खुद कुछ ऐसा कर सकती हैं, जो आपको आर्म फैट से हमेशा के लिए छुटकारा दिला सकता है। इसके लिए आपको बस कुछ योग मुद्राएं करनी होंगीं, जिसके बाद अंतर आप खुद महसूस करेंगीं।

बॉडी फैट की जब भी बात होती है, तो उसमें सबसे पहले पेट और फिर जांघों की बात की जाती है। हाथों की बाजुओं पर इकट्ठा होने वाले वसा पर आमतौर पर ध्यान नहीं दिया जाता। हालांकि, सच ये है कि जब मोटापा बढ़ता है, तो बाजुओं पर भी इसका असर साफ नजर आता है। वहीं कई लोगों की शारीरिक संरचना ही ऐसी होती है कि उनकी बाजू बाकी पूरे शरीर से अलग और मोटी नजर आती हैं। ढीली स्लीव्स वाले कपड़ों में ये छिप जाती हैं, लेकिन ब्लाउज और सूट जैसे फिटिंग की आस्तीन वाले कपड़ों में इन्हें छिपाना मुश्किल हो जाता है। इस स्थिति का सामना करने वाली महिलाएं तो स्लीवलेस कपड़े पहनने के बारे में सोचती तक नहीं हैं, क्योंकि वे आर्म फैट को लेकर असहज होती हैं। हालांकि, इस फैट को कुछ योग क्रियाओं के जरिए कम किया जा सकता है।

योग गुरु हंसा योगेन्द्र ने इस बारे में अपने एक वीडियो में जानकारी दी कि किन योग मुद्राओं से बाजुओं के आकार व वसा को कम किया जा सकता है। उन्होंने पूर्वोत्तानासन को आर्म फैट कम करने का शानदार तरीका बताया। इसे करने के लिए:

  • नीचे बैठकर पैरों को सामने की ओर सीधा फैला लें।
  • अब अपने हाथों को साइड में थोड़ा पीछे ले जाते हुए हथेलियों को जमीन से मजबूती से टिका लें।
  • अपने पैरों को हल्का से मोड़ लें और फिर शरीर को बाजुओं पर जोर लगाते हुए ऊपर की ओर उठाना शुरू करें।
  • अब मुड़े हुए पैरों को एक-एक कर सीधा करें।
  • ऐसा करने से पूरा जोर बाजुओं पर आएगा, जो उन्हें मजबूत करने के साथ ही टोन्ड बनाने में मदद करेगा।
  • इस पोज को कम से कम तीन से पांच बार करें।
  • अपने शरीर को सबसे पहले अधोमुखश्वानासन की मुद्रा में ले आएं।
  • इसके बाद बॉडी को प्लैंक पोज में ले जाएं।
  • इस दौरान अपने हाथों और पैरों को पूरी तरह से सीधा रखें
  • शरीर का ज्यादातर जोर सामने की ओर हथेलियों पर आना चाहिए।
  • अब धीरे-धीरे जमीन की ओर आएं और थोड़ी देर इस पोज को होल्ड करें, फिर ऊपर उठें।
  • ऐसा करने से ट्राइसेप्स और बाइसेप्स का वर्कआउट होता है और फैट कम होने लगता है।
  • पेट के बल नीचे लेट जाएं।
  • अपने हाथों को मोड़ते हुए, दोनों हथेलियों को सीने के बगल से जमीन की ओर रखें।
  • गहरी सांस लें और गर्दन व सिर को ऊपर की ओर उठाएं।
  • इस दौरान ध्यान रखें कि पैर आपस में जुड़े रहें और कोहनियां अंदर की ओर शरीर से सटी रहें।
  • सांस छोड़ते हुए सिर-गर्दन नीचे लाएं। मुद्रा को तीन से पांच बार करें।
  • ये आसन आर्म की मसल को टोन्ड करने के साथ ही, उस हिस्से पर जमे फैट को कम करता है।