36 घंटे से बिजली गुल, जन जीवन अस्त व्यस्त

बरेली। मौसम बदलने के साथ ही शुक्रवार को देर शाम आई आंधी से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। कहीं बिजली के पोल तो कही गिरे तार टूटकर गिर गए जिससे कहीं 12 घंटे बिजली गुल रही तो तो कही 36 घंटे से बिजली गुल है। 36 घंटे बाद भी दोहना से इज़्तनगर तक मेनलाइन का संचालन नहीं हो सका है। बिजली नहीं रहने से व्यावसायिक कार्य से लेकर पेयजल आपूर्ति प्रभावित रही। इससे लोगों को काफी परेशानी हुई।

कई स्थानों पर तो पेड़ उखड़ गए। झोपड़ियां, टिन शेड और गेहूं के बोझ उड़ गए। रहपुरा चौधरी ,परतापुर, मठ लक्ष्मीपुर ,मठ कमलैनपुर, लक्ष्मीपुर ,गौठिया, कर्मचारीनगर, सैदपुर आदि क्षेत्रो में सुबह तक बिजली नहीं आई थी। वही गांवों में बिजली आपूर्ति बाधित है जिले में शुक्रवार की शाम अचानक मौसम बदल गया। मौसम का रुख देख किसान गेहूं के बोझ को संभालने की बात सोचते कि इससे पहले आई आंधी खलिहानों में रखे अनाज को उड़ा ले गई। दुकानों के साइन बोर्ड, टिन शेड और घरों के छप्पर भी उड़ गए। शहर और ग्रामीण इलाकों में पोल व तार टूट गए जिससे बिजली आपूर्ति बाधित हो गई। चारों तरफ अंधेरा छा गया। आंधी के दौरान लोग रास्ते में फंसे रहे।

Related posts

Leave a Comment