शर्मनाक : भोपाल के छात्रावास में मूक बधिर छात्रा से दुष्कर्म

भोपाल। उत्तर प्रदेश और बिहार की तरह भोपाल के एक छात्रावास में भी धार की एक आदिवासी मूक-बधिर छात्रा से दुष्‍कर्म का मामला सामने आया है। यह छात्रावास सामाजिक न्याय एवं कल्याण विभाग के अनुदान से चल रहा था। इस मामले में पुलिस ने छात्रावास के संचालक को गिरफ्तार कर लिया है और शिनाख्‍ती के लिए धार भेजा है। खबरों के मुताबिक, धार जिले की रहने वाली एक युवती का आरोप है कि वह भोपाल के एक छात्रावास में पिछले तीन साल से रह रही है। इस दौरान छात्रावास के संचालक अश्विनी शर्मा ने उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। अपने घर जाने के बाद उसने पुलिस में इस मामले की शिकायत दर्ज करवाई।

पुलिस ने आरोपी शर्मा को दुष्‍कर्म और एसटी-एससी अधिनियम की धाराओं में गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस महानिरीक्षक मकरंद देउस्कर ने बताया कि इस मामले की विस्तृत जांच की जाएगी। उन्होंने कहा कि आरोपी छात्र और छात्राओं के लिए अवधपुरी इलाके में दो छात्रावास संचालित करता था। यहां मूक बधिक छात्राओं को कम्प्यूटर, सिलाई, कढ़ाई आदि की ट्रेनिंग दी जाती थी, साथ ही यहीं पर छात्राओं के रहने की व्यवस्था भी थी। इस मामले में पुलिस छात्रावास में रहने वाली अन्य छात्राओं से भी विस्तृत पूछताछ करेगी। इस मामले को लेकर प्रदेश कांग्रेस मीडिया सेल की अध्यक्ष शोभा ओझा ने कहा कि प्रदेश सरकार को प्रदेश में चल रहे सरकारी और अनुदान प्राप्त आश्रय स्थलों एवं छात्रावासों की सोशल ऑडिट करानी चाहिए।

Related posts