गंगा सफाई के लिए प्राण त्यागने वाले ‘स्वामी सदानंद’ को जनसेवियों ने दी श्रद्धांजलि

बरेली। गंगा बचाओ आंदोलनकारी प्रो. जीडी अग्रवाल स्वामी सानन्द के निधन पर जनसेवियो ने दी श्रद्धाजंलि दी। ऑल इंडिया मुस्लिम कौंसिल व जनसेवा टीम के तत्वाधान में बरेली के चौकी चौराहा स्थित महात्मा गाँधी पार्क में शोकसभा का आयोजन किया गया। जनसेवियों ने केंडिल जलाकर स्वामी सानन्द को श्रद्धाजंलि अर्पित कर उनकी आत्मा की शान्ति के लिये दो मिनट का मौन धारण किया।

इस मौके पर कौंसिल के महासचिव रिज़वान बरकाती ने कहा कि स्वामी सदानंद ने गंगा सफाई के लिये लम्बी लड़ाई लड़ी परन्तु गंगा बचाओ का ढिंढोरा पीटने वाले पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्रीयमंत्री उमा भारती एक बार भी एक सच्चे आन्दोलनक़ारी को देखने तक नही पहुँचे। यह हम सबके लिये शर्म की बात है। पूरा देश स्वामी सानन्द की कुर्बानी को ज़ाया नही होने देगा। गंगा स्वच्छ होगी तो देश स्वच्छ होगा।

जनसेवा टीम के अध्यक्ष पम्मी खान वारसी ने कहा कि स्वामी सानन्द की मृत्यु सरकार की बेरुखी का नतीजा है। पूरी ईमानदारी के साथ स्वामी जी ने गंगा बचाओ आंदोलन चलाया और जल त्याग कर उन्होंने गंगा की सफाई के लिये अपने प्राण तक त्याग दिये परन्तु केंद्र सरकार गंगा सफाई के अभियान पर विफल साबित हुई हैं। गंगा बचाओ अभियान पर केवल पैसे कमाओ के नारे को ही बुलन्द किया गया जिसके चलते एक सच्चे आंदोलनक़ारी की मृत्यु हो गई, लेकिन सरकार 112 दिन के आंदोलन में कभी भी सुध नही ली। स्वामी जी के बलिदान को देश हमेशा याद रखेगा।

श्रद्धाजंलि देने वालो में पम्मी वारसी, रिज़वान बरकाती, शम्मू खान, नवेद रज़ा खान, अहमद इकवाल, दानिश, सय्यद शोएब, जितेंद्र, सीताराम राजपूत आदि सहित तमाम समाजसेवी मौजूद रहे।

Related posts